क्रंच एक्सरसाइज क्या है – What is crunch exercise

" Changes only happens in the present moment . The past is already done . The future is just energy and intention "

556
क्रंच एक्सरसाइज क्या है - What is crunch exercise

आ         पने अक्सर अपने किसी दोस्त या फिर परिचित को यह कहते जरूर सुना होगा कि कल से पक्का जिम शुरू करना है। वो बात और है कि वो कल कभी नहीं आता और फिर धीरे-धीरे मोटापा व अन्य शारीरिक समस्याएं घेर लेती हैं। अब ऐसी स्थिति पैदा न हो, उसके लिए अभी से जागरूक होना जरूरी है। इसके लिए अच्छी नींद, पर्याप्त भोजन और कई तरह की एक्सरसाइज को अपनी दिनचर्या में शामिल करना होगा। अब आप सोचेंगे कि एक्सरसाइज के लिए तो जिम जाना होगा, लेकिन ऐसा नहीं है। आप घर में सिर्फ क्रंच एक्सरसाइज करके खुद को फिट रख सकते हैं। Google Today के इस आर्टिकल में क्रंच एक्सरसाइज करने के फायदे बताएंगे। साथ ही इस एक्सरसाइज को सही तरह से करने के तरीके भी बताएंगे। आर्टिकल में आगे बढ़ने से पहले आपको बता दें कि किसी भी प्रकार की एक्सरसाइज की शुरुआत करने के पहले ट्रेनर से सलाह लेना भी जरूरी है।

क्रंच एक्सरसाइज क्‍या है – What is Crunch Exercise 

  • क्रंच एक्सरसाइज जिम जाने वालों और व्यायाम करने वालों के साथ ही खिलाड़ियों में सबसे ज्यादा लोकप्रिय है।
  • पीठ के बल लेटकर की जाने वाली यह एक्सरसाइज न सिर्फ करने में आसान है.
  • बल्कि जल्दी ही फायदा देने वाली भी है।
  • इस एक्सरसाइज के जरिए पेट की मांसपेशियों में कसावट के साथ ही वजन को कम किया जा सकता है।
  • पेट की चर्बी कम करने वालों के लिए यह अच्छा व्यायाम हो सकता है।
  • इस व्यायाम को कई प्रकार से किया जा सकता है।
  • आर्टिकल में आगे हम इस बारे में विस्तार से बताएंगे।
You have To watch this video for Crunch Exercise 

क्रंच एक्सरसाइज के प्रकार – Types of Crunch Exercise 

वैसे तो क्रंच एक्सरसाइज कई प्रकार की हाेती हैं, लेकिन यहां हम मुख्य और फायदेमंद प्रकारों के वारे में बता रहे हैं।

  1. Basic crunch
  2. Reverse crunch
  3. Vertical leg crunch
  4. Long arm crunch
  5. Bicycle crunch
  6. Double crunch

क्रंच एक्सरसाइज करने के फायदे – Benefit of Crunch Exercise 

  • इसमें कोई संदेह नहीं कि किसी भी तरह की एक्सरसाइज करने से फायदा ही होता है.
  • लेकिन यहां हम सिर्फ क्रंच एक्सरसाइज के फायदे ही बताएंगे।
  • आइए, इन फायदों के बारे में विस्तार से जानते हैं।

वेट लॉस के लिए

  • क्रंच एक्सरसाइज न केवल वजन कम करने में मदद करती है.
  • बल्कि अगर इसे अपनी दिनचर्या में शामिल किया जाए,
  • तो यह शरीर के वसा को नियंत्रित करने में भी मददगार हो सकती है।
  • शोध में पाया गया है कि क्रंच एक्सरसाइज से मांसपेशियां मजबूत होती हैं.
  • जो अतिरिक्त वसा को कम करने में मदद कर सकती हैं।

स्ट्रांग मसल्स के लिए

  • क्रंच एक्सरसाइज मांसपेशियों को मजबूती प्रदान करने में फायदेमंद हाे सकती हैं।
  • एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफार्मेशन) की वेबसाइट पर इस संबंध में एक रिसर्च पेपर मौजूद है।
  • इस रिसर्च पेपर में बताया गया है कि अगर क्रंच एक्सरसाइज या फिर क्रॉस क्रंच एक्सरसाइज को हफ्ते में एक या दो दिन भी किया जाए,
  • ताे यह पेट की मांसपेशियों को मबूती प्रदान करने में मदद कर सकती है।

इसे भी पढ़ें :

हलासन कैसे करे – How to do Halasana

कमर की चर्बी कम करने के लिए

  • लेख के शुरुआत में बताया गया है कि क्रंच एक्सरसाइज को पेट से जुड़ी एक्सरसाइज कहा जाता है।
  • वहीं, एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध में इस बात का उल्लेख है कि पेट की एक्सरसाइज करने से पेट की चर्बी तो कम नहीं होती,
  • लेकिन इसे कम करने में मदद जरूर मिल सकती है।
  • इसलिए, अगर नियमित रूप से क्रंच एक्सरसाइज के साथ-साथ संतुलित आहार को भी लिया जाए,
  • तो शरीर को आराम से सही आकार में लाया जा सकता है।

बॉडी को फ्लेक्सिबल बनाने के लिए

  • क्रंच एक्सरसाइज शरीर को लचीला बनाने में भी मदद कर सकती है।
  • इस विषय पर कई शोध संस्थाओं ने युवा, प्रौढ़ और बुजुर्ग लोगों पर शोध किए है.
  • जिसे एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित किया गया है।
  • शोध के अनुसार, सभी के शरीर का लचीलापन लिंग, शारीरिक योग्यता, उम्र और प्रशिक्षण के आधार पर अलग-अलग हो सकता है।
  • अलग-अलग उम्र के लोगों पर किए गए शोध में पाया गया कि जिन लोगों ने सही तरीके से नियमित रूप से व्यायाम किया,
  • उनके शरीर के लचीलेपन में वृद्धि देखी गई है।
  • शोध के अनुसार, क्रंच एक्सरसाइज का प्रशिक्षण लचीलेपन को बढ़ा सकता है।

क्रंच एक्सरसाइज करने के तरीके – Steps to do Crunch Exercises 

Basic crunch :

  • सबसे पहले पीठ के बल लेट जाएं और अपने पैरों को फर्श पर फैला लें।
  • इसके बाद घुटनों को मोड़ें और अपनी कोहनियों को मोड़ते हुए हाथों को छाती पर रखें।
  • अब सांस छोड़ते हुए सिर और छाती को ऊपर उठाएं।
  • फिर सांस लेते हुए पहले वाली स्थिति में आ जाएं। आप ऐसा लगातार कई बार कर सकते हैं।

Reverse crunch :

  • मैट पर पीठे के बल लेट जाएं और अपनी दोनों भुजाओं को शरीर के साथ सीधा सटाकर रखें।
  • इसके बाद अपने दोनों घुटनों को 90 डिग्री के एंगल तक मोड़ लें।
  • फिर सांस छोड़ते हुए घुटनों व कूल्हों को ऊपर उठाएं। कोशिश करें कि घुटने छाती से स्पर्श हो जाएं।
  • फिर सांस लेते हुए वापस नीचे आएं, लेकिन पैरों को जमीन पर न रखें। इस तरह आप कूल्हों व घुटनों को कुछ देर तक लगातार ऊपर-नीचे कर सकते हैं।

Vertical Leg Crunch :

  • सबसे पहले मैट पर पीठ के बल लेट जाएं।
  • अपने हाथों को मोड़ कर अपनी गर्दन के पीछे लाएं।
  • अब अपने दोनों पैरों को सीधा रखते हुएए ऊपर की ओर उठाएं। इस स्थिति में शरीर का आकार अंग्रेजी के एल (L) शेप जैसा होगा। ध्यान रहे कि कमर फर्श पर सटी रहे।
  • इसके बाद सांस छोड़ते हुए शरीर के ऊपरी हिस्से को जितना हो सके ऊपर उठाने की कोशिश करें।
  • इस स्थिति में एक या दो मिनट तक खुद को रोकने की कोशिश करें।
  • अब सांस लेते हुए नीचे की ओर वापस आएं और फिर से इस प्रक्रिया को दोहराएं।

Long Arm Crunch :

  • जमीन पर पीठ के बल लेटकर दाेनों हाथों को सिर के पीछे सीधा ले जाएं। बाजुएं कान से सटी होनी चाहिए और दोनों हाथों को पकड़ कर मुट्ठी बांध लें।
  • अब अपने घुटनों को 40 डिग्री तक मोड़ें और सांस छोड़ते हुए अपनी छाती और दोनों हाथों को उठाने की काेशिश करें।
  • 1 से 2 सेकंड इसी अवस्था में रहें।
  • इसके बाद आराम से सांस लेते हुए वापस अपनी अवस्था में आ जाएं।

Bicycle Crunch :

  • मेट पर पीठ के बल लेटकर दोनों हाथों की उंगलियों को आपस में फंसाते हुए सिर के पीछे रख लें और दोनों पैरों को थोड़ा ऊपर उठा लें।
  •  इसके बाद दाएं पैर को घुटने से मोड़ें और सिर को ऊपर उठाते हुए बाईं तरफ मोड़ते हुए बाएं कोहनी से दाएं घुटने को छूने का प्रयास करें। ध्यान रहे कि आपके हाथ आपस में जुड़े रहें और बाईं टांग सीधी रहे।
  • इसके बाद दाएं टांग को सीधा करें और सिर को भी नीचे ले आएं। इसके बाद बांए पैर को घुटने से मोड़ें और दाईं कोहनी से बाएं घुटने को छूने का प्रयास करें।
  • इसे आप लगातार कई बार कर सकते हैं।

Double Crunch :

  • जमीन पर पीठ के बल सीधे लेट जाएं।
  • अब अपने सिर के पीछे दोनों हाथों ले जाएं और दोनों घुटनों को थोड़ा मुड़ कर छाती के पास ले आएं।
  • साथ ही सांस छोड़ते हुए अपने सिर को ऊपर की ओर उठाएं।
  • इसे आप 12 बार 3 सेट में कर सकते हैं।

क्रंच एक्सरसाइज के समय सावधानियां – Precautions while crunch exercise

  • शुरुआत में क्रंच एक्सरसाइज करने के लिए सपोर्ट लें, नहीं तो चोट लगने का खतरा रहता है।
  • शुरुआत धीमी गति से करनी चाहिए।
  • गलत तरीके से की गई क्रंच एक्सरसाइज पीठ और गर्दन पर नकारात्मक असर डाल सकती है। इसलिए, पहले इसका सही तरीका जरूर जान लें और फिर करें।

क्रंच एक्सरसाइज के नुकसान – Side Effects of Crunch Exercise 

  • क्रंच एक्सरसाइज को गलत तरीके से करने पर पीठ में तनाव पैदा हो सकता है।
  • कमर में चोट लगने का खतरा बढ़ सकता है।
  • इससे गलत तरीके से करने पर मांसपेशियों में दर्द, सूजन, चोट, जकड़न या पेट में दर्द हो सकता है।
  • इसे भोजन के बाद करने से गंभीर पेट दर्द के साथ-साथ उल्टी की समस्या भी हो सकती है।
  • क्रंच एक्सरसाइज में ज्यादा जोर देने पर मांसपेशियों में अकड़न के साथ-साथ गर्दन में दर्द और मोच आ सकती है।

अगर आप सिक्स पैक एब्स की चाहत रखते हैं, तो क्रंच एक्सरसाइज पर लिखा यह आर्टिकल आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है। इस आर्टिकल में आपने क्रंच एक्सरसाइज करने के फायदे और इसकी विधि के बारे में जाना। अगर आप इस एक्सरसाइज को शुरू करने जा रहे हैं, तो बेहतर होगा कि किसी ट्रेनर या सलाहकार से पूछकर ही करें, क्योंकि एक्सरसाइज कोई भी हो, उसे सावधानी और पूरी जानकारी के साथ करना ही फायदेमंद होता है। Thank you …..

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here