मो        ती जैसे लाल रंग के छोटे और रसदार Pomegranate के दानों को देखते ही मुंह में उसके मीठे स्वाद का एहसास होने लगता है। यह फल सिर्फ स्वाद से भरपूर ही नहीं है, बल्कि कई औषधीय गुणों की खान भी है। इन खूबियों के कारण ही कई गंभीर बीमारियों से बचने के लिए इसे इस्तेमाल में लाने की सलाह दी जाती है। बेशक, अनार व उसके रस का सेवन करने से स्वस्थ रहा जा सकता है, लेकिन इसे किसी भी गंभीर बीमारी का उपचार समझना सही नहीं है। ऐसी अवस्था में डॉक्टर से इलाज करवाना ही बेहतर है। Google Today के इस लेख में हम पोमेग्रेनेट के औषधीय गुण और अनार के फायदे विस्तार से जानेंगे। आइए, अब सीधा मुद्दे पर आते हैं और pomegranate से जुड़ी हर-छोटी बड़ी जानकारी हासिल करते हैं।

Contents hide
1 अनार के औषधीय गुण पूरी जानकारी

अनार के औषधीय गुण पूरी जानकारी 

  1. एंटीऑक्सीडेटिव – मुक्त कणों को नष्ट करने वाला
  2. एंटीएथीरियोजेनिक – धमनियों में वसा के जमाव को रोकने वाला
  3. एंटीहाइपरटेंसिव – ब्लड प्रेशर को कम करने वाला
  4. एंटीइन्फ्लेमेटरी – सूजन कम करने वाला
  5. एंटीडायबिटिक – ब्लड शुगर को नियंत्रित करने वाला
  6. एंटीमाइक्रोबियल – सूक्ष्म बैक्टीरिया को नष्ट करने वाला
  7. एंटीप्लाक – दांतों पर जमा प्लाक को हटाने वाला
  8. एंटीपैरासिटिक – परजीवियों को नष्ट करने वाला
  9. एंटीफंगल – फंगस को खत्म करने वाला
  10. एंटीवायरल – वायरस के प्रभाव को कम करने वाला
  11. एंटीप्रोलीफरेटिव – घातक कोशिकाओं को बढ़ने से रोकने वाला
  12. एंटीट्यूमर – ट्यूमर को बढ़ने से रोकने वाला
  13. एंटीकैंसर – कैंसर के प्रभाव को कम करने वाला

इन्हीं गुणों के कारण अनार को एक स्वास्थ्यवर्धक फल के रूप में देखा जाता है.अनार के औषधीय गुण के बाद अब हम अनार के फायदे बताएंगे, ताकि आप जान सकें कि अनार खाने से क्या होता है।

You have To watch this video for Pomegranate

अनार के फायदे – Benefits of Pomegranate 

  • अनार खाने के फायदे की बात करें, तो इसमें मौजूद औषधीय गुण इसे सेहत के साथ ही त्वचा और बालों के लिए भी उपयोगी बनाते हैं।
  • हम अनार खाने के फायदे क्रमवार जानने का प्रयास करते हैं
  • और गहराई से समझते हैं कि अनार खाने से क्या होता है। 

त्वचा के लिए उपयोगी अनार – Pomegranate useful for skin

  • कई स्वास्थ्य लाभों के साथ ही अनार का उपयोग त्वचा के लिए भी लाभकारी साबित हो सकता है।
  • पोमेग्रेनेट से संबंधित एक शोध में यह माना गया है।
  • शोध में जिक्र मिलता है कि अनार का सेवन कर त्वचा से संबंधित सूजन, त्वचा पर बढ़ती उम्र का प्रभाव और बैक्टीरियल इन्फेक्शन को दूर करने में सहायक है।
  • वहीं, चाहे तो इसे त्वचा पर बेहतर प्रभाव के लिए लगाने के लिए भी इस्तेमाल में लाया जा सकता है।

बालों के लिए उपयोगी – Useful for hair

  • बालों के लिए अनार खाने के लाभ की बात करें, तो फिलहाल वैज्ञानिक रूप से इसके कोई स्पष्ट प्रमाण उपलब्ध नहीं है।
  • फिर भी पोमेग्रेनेट पर किए गए कुछ शोध इस बात का इशारा देते हैं कि अनार का उपयोग बालों पर आने वाले तनाव को कम कर सकता है।
  • यह एनीमिया के कारण होने वाली बाल झड़ने की समस्या में सुधार कर सकता है।
  • साथ ही यह भी माना गया है कि अनार में मौजूद पॉलीफिनोल्स और टैनिन के कारण यह एक एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम कर सकता है।
  • अनार का यह गुण प्राकृतिक या डाई किए गए बालों के रंग को सूरज की यूवीए (अल्ट्रावायलेट-ए) किरणों से बचा सकता है ।
  • इस आधार पर इसे कुछ मामलों में बालों के लिए उपयोगी भी माना जा सकता है।

वजन घटाने में उपयोगी – Useful in weight loss

  • वजन घटाने का प्रयास करने वाले लोगों के लिए भी अनार का फल लाभदायक साबित हो सकता है।
  • एक शोध में जिक्र मिलता है कि अनार और उसका अर्क बढ़ते हुए वजन को नियंत्रित करने में मददगार साबित हो सकता है।
  • वहीं, अनार की पत्तियों से संबंधित एक शोध में पाया गया कि इसमें भूख को कम करने की क्षमता होती है।
  • इस कारण अनार की पत्तियां अधिक वसा युक्त भोजन के कारण बढ़ते वजन की रोकथाम में मदद कर सकती हैं।

पाचन तंत्र में उपयोगी – Useful in digestive system

  • Pomegranate में फाइबर व अन्य जरूरी पोषक तत्व भी होते हैं.
  • जो अच्छे पाचन तंत्र के लिए जरूरी हैं।
  • अगर अनार का सेवन तय मात्रा में किया जाए, तो कब्ज जैसी समस्या से राहत मिल सकती है।
  • इसके अलावा, अनार में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण भी होते हैं.
  • जो अल्सरेटिव कोलाइटिस जैसे गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट में आई समस्या को ठीक करने में मदद कर सकते हैं।
  • गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट मानव शरीर में पाचन तंत्र का अहम हिस्सा है।
  • साथ ही अनार में एंटी-हेलिकोबैक्टर पाइलोरी प्रभाव पाया जाता है।
  • हेलिकोबैक्टर पाइलोरी एक प्रकार का बैक्टीरिया है.
  • जो पेट में पाया जाता है।
  • यह पाचन तंत्र को प्रभावित कर सकता है।
  • इन तमाम वैज्ञानिक प्रमाण के बावजूद पाचन तंत्र के संबंध में अनार के गुण पर और शोध किए जाने की जरूरत है।

डायबिटीज नियंत्रण में उपयोगी – Useful in diabetes control

  • डायबिटीज यानी बढ़े हुए बल्ड शुगर की समस्या में भी अनार के फायदे उपयोगी साबित हो सकते हैं।
  • वजह यह है कि अनार में एलेजिक, गैलिक व ओलियानोलिक एसिड आदि होता है।
  • इन सभी एसिड की मौजूदगी के कारण अनार एंटीडायबिटिक (ब्लड शुगर कम करने वाला) गुण प्रदर्शित कर सकता है।
  • वहीं, खास यह है कि अनार के जूस में मौजूद शुगर भी ब्लड शुगर को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है।
  • पोमेग्रेनेट की इन सभी खूबियों का जिक्र एनसीबीआई के एक शोध में स्पष्ट रूप से किया गया है।
  • इस आधार पर यह माना जा सकता है कि इस फल का सेवन कर डायबिटीज को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है।

हड्डियों को मजबूती में उपयोगी – Useful in strengthening bones

  • अगर कोई हड्डियों व जोड़ों के दर्द से परेशान हैं.
  • तो आज से अनार का सेवन करना शुरू कर दें।
  • अनार के दानों में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होता है.
  • जो अर्थराइटिस जैसी बीमारी में फायदेमंद साबित हो सकता है।
  • एनसीबीआई की वेबसाइट पर एक रिसर्च पेपर के आधार पर पुष्टि होती है कि अनार के सेवन से जोड़ों में दर्द और सूजन में कमी आ सकती है।
  • साथ ही गठिया रोग का कारण बनने वाले एंजाइम भी नष्ट हो सकते हैं।

किडनी स्टोन की समस्या में उपयोगी – Useful in kidney stone problem

  • किडनी स्टोन से पीड़ित व्यक्ति भी Pomegranate का सेवन कर कुछ हद तक राहत पा सकते हैं।
  • एनसीबीआई की वेबसाइट पर उपलब्ध शोध में जिक्र मिलता है कि अनार में एंटी-हाइपरकैल्सीयूरिया (कैल्शियम नियंत्रित करना) और एंटी-यूरोलिथियासिस (स्टोन बनने की प्रक्रिया को रोकने वाला) प्रभाव पाया जाता है ।
  • इस आधार पर यह माना जा सकता है कि किडनी में स्टोन की समस्या में अनार का सेवन लाभकारी साबित हो सकता है।
  • बेशक, यहां हमने वैज्ञानिक प्रमाण सहित बताया है कि अनार किडनी समस्या में लाभदायक है.
  • लेकिन बिना डॉक्टर की सलाह पर इसका सेवन करना सही नहीं है।

हृदय के स्वास्थ्य में उपयोगी – Useful in heart health

  • पोमेग्रेनेट का सेवन हृदय स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है।
  • एडवांस्ड बायोमेडिकल रिसर्च के एक शोध से यह बात स्पष्ट होती है।
  • एक शोध के अनुसार, अनार में एंटीहाइपरटेंसिव (ब्लड प्रेशर कम करने वाला) के साथ ही एंटीएथीरियोजेनिक (धमनियों में वसा के जमाव को रोकने वाला) गुण पाया जाता है।
  • इसके अलावा, शोध में यह भी माना गया है कि अनार का उपयोग कर बढ़े हुए कोलेस्ट्रोल को नियंत्रित करने में भी मदद मिल सकती है।
  • वहीं, अनार के फायदे में अनार के बीज का तेल भी शामिल है।
  • यह तेल संपूर्ण लिपिड प्रोफाइल को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है ।
  • इसलिए, अनार के बीज के फायदे में हृदय रोग से बचाना भी शामिल है।

यौन क्षमता के सुधार में उपयोगी – Useful in improving sexual ability

  • इरेक्टाइल डिसफंक्शन पुरुषों से संबंधित एक समस्या है।
  • इसमें नसों में ढीलेपन के कारण पुरुष की यौन क्षमता प्रभावित होती है।
  • इस समस्या से ग्रस्त व्यक्तियों के लिए भी अनार का सेवन लाभकारी साबित हो सकता है।
  • चूहों पर किए गए एक शोध से स्पष्ट होता है कि अनार के जूस में एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव होता है.
  • जो इरेक्टाइल डिसफंक्शन से कुछ राहत दिला सकता है।
  • इस बात का उल्लेख एनसीबीआई की वेबसाइट पर उपलब्ध रिसर्च पेपर में किया गया है ।
  • इस आधार पर कहा जा सकता है कि अनार जूस के फायदे की लिस्ट में यौन क्षमता में सुधार भी शामिल है।

ब्लड प्रेशर में उपयोगी – Useful in blood pressure

  • जैसा कि पहले भी बताया गया है कि अनार में एंटीऑक्सीडेंट और एंटीइंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं।
  • साथ ही इसमें एंटीहाइपरटेंसिव (रक्तचाप को नियंत्रित करने वाला गुण) प्रभाव होता है।
  • इस लिहाज से रक्तचाप को नियंत्रित रखने में अनार फायदेमंद साबित हो सकता है।
  • यह खराब कोलेस्ट्रॉल को शरीर से खत्म कर अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बनाने में मदद कर सकता है
  • और धमनियों में किसी भी प्रकार की रुकावट नहीं आने देता।
  • यही कारण है कि पोमेग्रेनेट जूस के फायदे देखते हुए डॉक्टर भी बेहतर रक्तचाप के लिए प्रतिदिन एक गिलास अनार का जूस पीने की सलाह देते हैं।

गर्भावस्था में उपयोगी – Useful in pregnancy

  • प्रत्येक महिला के लिए गर्भावस्था काल को संवेदनशील माना गया है।
  • इस दौरान, जरा-सी लापरवाही मां और शिशु दोनों के लिए नुकसानदायक साबित हो सकती है।
  • वहीं, एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित शोध के अनुसार, गर्भावस्था के दौरान अनार का सेवन करना गर्भवती महिला के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है।
  • यह प्लेसेंटा को होने वाली क्षति की आशंका को कम कर सकता है।
  • पोमेग्रेनेट में एंटीऑक्सीडेंट गुण होता है.
  • जो गर्भावस्था के दौरान प्लेसेंटा की रक्षा कर सकता है।
  • साथ ही अनार में फोलेट भी होता है.
  • जो गर्भवती महिला और गर्भ में पल रहे शिशु के स्वास्थ्य के लिए जरूरी होता है।
  • इस आधार पर माना जा सकता है कि गर्भावस्था में इस का सेवन लाभकारी साबित हो सकता है।
  • गर्भावस्था एक नाजुक पड़ाव है.
  • इसलिए ऐसे वक्त में किसी भी चीज का सेवन डॉक्टर की सलाह के बिना नहीं करना चाहिए।

एंटीइंफ्लेमेटरी गुण में उपयोगी – Useful in Anti-inflammatory properties

  • अनार में एंटीइंफ्लेमेटरी (सूजन को कम करने वाला) गुण मौजूद होता है।
  • यह गुण पेट से संबंधित सूजन को दूर करने में सहायक साबित हो सकता है।
  • वहीं, अनार के इस गुण से संबंधित एक अन्य शोध में जिक्र मिलता है कि यह गुण सूजन के कारण होने वाली विभिन्न शारीरिक समस्या को कम कर सकता है।
  • इतना ही नहीं इस गुण के कारण अनार का सेवन अर्थराइटिस (गठिया) के कारण होने वाली जोड़ों की सूजन से राहत दिलाने में भी कारगर साबित हो सकता है।

अल्जाइमर्स में उपयोगी – Useful in Alzheimer’s

  • अल्जाइमर्स एक तंत्रिका संबंधी विकार है.
  • जो ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस के कारण पैदा होता है।
  • यह बीमारी खासकर बुजुर्गों को प्रभावित करती है।
  • इस समस्या में बढ़ती उम्र के साथ बुजुर्गों की याददाश्त कम होने लगती है।
  • इस समस्या से पीड़ित व्यक्तियों में अनार के जूस के सेवन से सुधार देखने को मिल सकता है।
  • एनसीबीआई की वेबसाइट पर उपलब्ध शोध के मुताबिक, अनार के जूस में शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं।
  • इस कारण अनार जूस के फायदे ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम कर अल्जाइमर के जोखिम को कम करने में कारगर साबित हो सकते हैं।
  • वहीं, अनार में इसी एंटीऑक्सीडेंट गुण के कारण न्यूरोप्रोटेक्टिव प्रभाव भी पाया जाता है।
  • यह प्रभाव तंत्रिका तंत्र की बिगड़ी कार्यशैली में सुधार कर व्यक्ति की याददाश्त को बढ़ावा देने में मदद कर सकता है।
  • इस आधार पर यह कहा जा सकता है कि अनार का इस्तेमाल कर इस समस्या में कुछ हद तक राहत पाई जा सकती है।

बैक्टीरिया और फंगस से बचाव में उपयोगी – Useful in protecting against bacteria and fungus

  • बैक्टीरियल और फंगल इंफेक्शन से बचाव के लिए भी पोमेग्रेनेट का इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • अनार पर किए गए दो अलग-अलग शोध इस बात की पुष्टि करते हैं।
  • फूड एंड न्यूट्रिशन रिसर्च के मुताबिक, पोमेग्रेनेट के जूस में एंटीमाइक्रोबियल गुण मौजूद होता है।
  • इस गुण के कारण पोमेग्रेनेट सूक्ष्म बैक्टीरिया के प्रभाव को कम कर सकता है ।
  • वहीं, ब्राजीलियन जर्नल ऑफ माइक्रोबायोलॉजी के मुताबिक, पोमेग्रेनेट के बीज और इसके छिलके में एंटीफंगल (फंगस को नष्ट करने वाले) गुण मौजूद होते हैं।
  • इस आधार पर यह कहा जा सकता है कि अनार के साथ-साथ अनार के छिलके और पोमेग्रेनेट के बीज के फायदे बैक्टीरिया और फंगस दोनों के प्रभाव को कम करने में मदद कर सकते हैं।

अनार के पौष्टिक तत्व – Pomegranate Nutritional Value 

Nutrient Unit Value per 100 g
Water g 77.93
Energy kcal 83
Protein g 1.67
Total lipid (fat) g 1.17
Carbohydrate, by difference g 18.70
Fiber, total dietary g 4.0
Sugars, total g 13.67
Calcium, Ca mg 10
Iron, Fe mg 0.30
Magnesium, Mg mg 12
Phosphorus, P mg 36
Potassium, K mg 236
Sodium, Na mg 3
Zinc, Zn mg 0.35
Vitamins
Vitamin C, total ascorbic acid mg 10.2
Thiamin mg 0.067
Riboflavin mg 0.053
Niacin mg 0.293
Vitamin B-6 mg 0.075
Folate, DFE microgram 38
Vitamin B-12 microgram 0.00
Vitamin A, RAE microgram 0
Vitamin A, IU IU 0
Vitamin E (alpha-tocopherol) mg 0.60
Vitamin D (D2 + D3) microgram 0.0
Vitamin D IU 0
Vitamin K (phylloquinone) microgram 16.4
Lipids
Fatty acids, total saturated g 0.120
Fatty acids, total monounsaturated g 0.093
Fatty acids, total polyunsaturated g 0.079
Fatty acids, total trans g 0.000
Cholesterol mg 0
Other
Caffeine mg 0

 

इसे भी पढ़ें :

विटामिन – A की कमी के कारण लक्षण और इलाज

अनार का उपयोग – How to Use Pomegranate 

यह आप पर निर्भर करता है कि आपको पोमेग्रेनेट का सेवन करना किस प्रकार से अच्छा लगता है। यहां हम अनार का सेवन करने के कुछ आम तरीके बता रहे हैं :

  1. आप पोमेग्रेनेट का जूस निकालकर इसे पी सकते हैं।
  2. फलों के सलाद में अनार के दानों को मिलाकर इसका सेवन कर सकते हैं।
  3. अगर आप घर में कस्टर्ड, केक या आइस्क्रीम बनाते हैं, तो उसमें इसके दाने डाल सकते हैं। इससे व्यंजन का स्वाद और बढ़ जाएगा।
  4. ऐसा माना जाता है कि इस फल का सेवन सुबह करना चाहिए। इससे शरीर में ऊर्जा बनी रहती है।

अनार के नुकसान – Side Effects of Pomegranate 

कुछ विशेष स्थितियों में या अधिक सेवन से अनार के नुकसान भी देखने को मिल सकते हैं, जो इस प्रकार हैं:

  • Pomegranate में ब्लड शुगर को कम करने का गुण होता है।
  • इसलिए, डायबिटीज की दवा लेने वाले लोगों को Pomegranate  का जूस पीने में सावधानी बरतनी चाहिए।
  • दवा के साथ इसका सेवन करने से लो ब्लड शुगर की समस्या हो सकती है।
  • लो ब्लड प्रेशर की शिकायत वाले या ब्लड प्रेशर की दवा लेने वाले लोगों को इसके सेवन में सावधानी बरतने की आवश्यकता है.
  • क्योंकि ब्लड प्रेशर कम करने के गुण के कारण इसका अधिक सेवन लो ब्लड प्रेशर की समस्या पैदा कर सकता है।
  • इस फल को ज्यादा खाने के नुकसान में एलर्जी भी शामिल है।
  • इसलिए, कुछ विशेष खाद्य पदार्थों से एलर्जी की शिकायत वाले लोगों को इसके सेवन में सावधानी बरतनी चाहिए।

अनार खाने के फायदे और उपयोग संबंधी इतनी सारी बातें जानने के बाद आप यह तो समझ ही गए होंगे कि एक अनार कितने काम का साबित हो सकता है। फिर देर किस बात की आज से ही इसे अपने इस्तेमाल में लाएं और स्वस्थ जीवन का लाभ उठाएं। साथ ही आपको यह भी ध्यान रखना होगा कि यह लेख में बताई जाने वाली समस्याओं में अनार राहत तो पहुंचा सकता है, लेकिन संपूर्ण उपचार साबित नहीं हो सकता। किसी भी बीमारी का पूर्ण इलाज केवल डॉक्टरी सलाह पर ही निर्भर करता है। वहीं, अनार को उपयोग में लाने से पहले अनार खाने के फायदे और नुकसान दोनों पर बराबर से ध्यान दिए जाने की जरूरत है। Thankyou……..

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here