अ       नानास ऐसा फल है, जो खाने में जितना स्वादिष्ट होता है, उसके फायदे भी उतने ही होते हैं। चाहे अनानास का जूस पिएं या उसे खाएं, हर तरह से यह फल शरीर को फायदा पहुंचा सकता है। इस फल में पौष्टिक तत्वों की भरमार है। खाने में रसीला और सेहत से भरपूर Pineapple अपने आप में गुणों का खजाना है। अगर कोई व्यक्ति अनानास के लाभ से अनजान हैं, तो Google Today का यह लेख उन्हीं के लिए है। इस लेख में हम अपने पाठकों को अनानास के फायदे बताएंगे। साथ ही बताएंगे कि इसे कैसे खान-पान में शामिल किया जा सकता है। चलिए विस्तार से बात करते है.

अनानास फल क्या है – What is Pineapple Fruit

अनानास एक खट्टा-मीठा फल है जिसे ,

  1. ए. सैटिवस           – A. Sativus
  2. एनानासा सैटिवा      – Ananassa Sativa
  3. ब्रोमेलिया एनानास    – Bromelia Ananas
  4. बी. कोमोसा          – B. Comosa

 

  • आदि नामों से जाना जाता है।
  • अनानास Bromolysia प्रजाति का प्रमुख फल है.
  • जो फिलीपींस, थाईलैंड, इंडोनेशिया, मलेशिया, केन्या, भारत और चीन सहित कई उष्णकटिबंधीय देशों में उगाया जाता है।
  • अनेक संस्कृतियों ने इसे औषधीय पौधा माना है।
  • अनानास के इन औषधीय गुणों के लिए ब्रोमेलेन नामक तत्व को जिम्मेदार ठहराया जाता है.
  • जो अनानास का अर्क है।
  • Pineapple और इसके यौगिकों पर काफी शोध किए जा चुके हैं.
  • जिनके आधार पर इस लेख में इसके फायदे बताए गए हैं।
  • हालांकि एक बात का ध्यान अवश्य रखें कि अनानास किसी बीमारी के इलाज का विकल्प नहीं है।
  • जो लोग गंभीर बीमारियों से जूझ रहे हैं.
  • वो डॉक्टर से परामर्श लेने के बाद ही अनानास का सेवन करें।
  • इसका सेवन बीमारी के लक्षण को कम करने या बचाव में कारगर हो सकता है।
  • तो तैयार हो जाइये इस पौष्टिक फल के गुणों के बारे में जानने के लिए।

 अनानास के फायदे – Benefits of Pineapple 

Benefits of Pineapple for Bones

  • हड्डियों को लंबे समय तक मजबूत रखने के लिए खानपान में Pineapple को शामिल किया जा सकता है।
  • इसमें मैंगनीज होता है.
  • जो हड्डियों को मजबूत रखने के लिए एक जरूरी खनिज माना जाता है।
  • एक शोध के अनुसार महिलाओं के लिए 1.8 मिलीग्राम/दिन और पुरुषों के लिए 2.3 मिलीग्राम/दिन मैंगनीज की जरूरत होती है।
  • वहीं, 100 ग्राम अनानास में 0.927 मिलीग्राम मैंगनीज पाया जाता हैं।
  • इसलिए मैंगनीज की पूर्ति करके अनानास हड्डियों को मजबूती प्रदान कर सकता है।
  • इसके अलावा, अनानास में कैल्शियम भी मौजूद होता है.
  • और कैल्शियम हड्डियों स्वास्थ्य के लिए क जरूरी पोषक तत्व के रूप में जाना जाता है।
  • इन दोनों जरूरी पोषक तत्वों के आधार पर हड्डियों के लिए अनानास का सेवन किया जा सकता है।

Benefits of Pineapple for Asthma

  • Pineapple का घटक ब्रोमेलेन अस्थमा के मरीजों के लिए किसी वरदान से कम नहीं हैं।
  • यह अस्थमा के कारण श्वास मार्ग में होने वाली सूजन को कम कर सकता है।
  •  एक स्टडी के अनुसार, अनानास के अर्क में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होते हैं.
  • जो श्वास मार्ग की सूजन को कम करके अस्थमा के लक्षणों से राहत दे सकते हैं।
  • हालांकि, ध्यान रहे कि इसके साथ डॉक्टर द्वारा बताई दवाइयों का सेवन भी जरूरी है।

Benefits of Pineapple for Mouth Health

  • Pineapple में पाया जाने वाला यौगिक ब्रोमेलेन अच्छा एंटीबैक्टीरियल तत्व भी है।
  • यही कारण है कि इसे दन्त चिकित्सा में एंटीइंफ्लेमेटरी – सूजन कम करने वाली और एनाल्जेसिक – दर्द निवारक दवा के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • साथ ही एक शोध के अनुसार, ब्रोमेलेन में एंटी-प्लाक और एंटी-जिंजिवाइटिस गुण पाए जाते हैं।
  • ये गुण दांतों के ऊपर बैक्टीरिया युक्त परत को जमने से रोक सकते हैं.
  • जिससे जिंजिवाइटिस – मसूड़ों में सूजन नामक रोग होने का जोखिम कम हो सकता है।
  • साथ ब्रोमेलेन दांतों की चमक और सफेदी बरकरार रखने में मदद कर सकता है।
  • इन्हीं गुणों के चलते इसे मुंह की स्वच्छता और स्वास्थ्य के लिए अच्छा माना जा सकता है।

Benefits of Pineapple for the Heart

  • Pineapple का सेवन करने से हृदय स्वास्थ्य बना रह सकता है।
  • इसमें कार्डियोप्रोटेक्टिव यानी ह्रदय तंत्र की रक्षा करने वाले गुण मौजूद हैं।
  • वैज्ञानिकों ने गहन शोध से यह पता लगाया है कि इसमें मौजूद ब्रोमेलेन एप्टोटिस में बाधा पैदा कर सकता है.
  • यानी कोशिकाओं को मरने से बचा सकता है।
  • साथ ही यह खून के बहाव में बाधा आने से पैदा हुए डेड टिश्यू के आकार को कम कर सकता है।
  • इन दोनों गुणों के चलते हृदय संबंधी कार्य में सुधार हो सकता है।

Pineapple can be Helpful in Reducing Weight

  • वजन कम करने में Pineapple का रस सहायक हो सकता है।
  • चूहों पर की गई स्टडी में पाया गया है कि अनानास का रस एंटी-ओबेसिटी तत्व की तरह काम कर सकता है।
  • इसके सेवन से लिपोजेनेसिस – वसा बनने की चयापचय प्रक्रिया में कमी आ सकती है.
  • और लिपोलिसिस – फैट और अन्य लिपड टूटने की प्रक्रिया में वृद्धि हो सकती है।
  • अनानास के रस में पाया जाने वाला यह गुण वजन कम करने में सहायक हो सकता है।

Benefits of Pineapple in Cold 

  • सर्दी और जुकाम में भी अनानास के सेवन के फायदे देखे जा सकते हैं।
  • गले और नाक से जुड़ी स्वास्थ्य समस्या के लक्षणों से यह राहत दे सकता है।
  • इस समस्या में म्यूकस मेंब्रेन में सूजन आ जाती है और अधिक बलगम जमने लगता है।
  • Pineapple में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं.
  • जो इस समस्या से राहत दिलाने में मदद कर सकते हैं।
  • हालांकि, इस बारे में अभी शोध की आवश्यकता है.
  • लेकिन हल्की-फुल्की समस्या में इसका सेवन किया जा सकता है।

Pineapple Relieves Nausea

  • जी मिचलाने की परेशानी में भी Pineapple लाभकारी हो सकता है।
  • यह समस्या चाहे सुबह-सुबह होने वाली मॉर्निंग सिकनेस हो या यात्रा के दौरान होने वाली मोशन सिकनेस,
  • इसका सेवन मददगार साबित हो सकता है.
  • लेकिन इस बारे वैज्ञानिक शोध में की कमी है कि इसके कौन से गुण जी मिचलाने की समस्या को कम कर सकते हैं।
  • हां, अनानास एक खट्टा-मीठा फल है.
  • ऐसे में इसके स्वाद को जी मिचलाने की समस्या से राहत दिलाने का कारक माना जा सकता है।

Properties of Pineapple in Cancer Prevention

  • कैंसर एक गंभीर बीमारी है.
  • जिसके इलाज के लिए लंबी चिकित्सा प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है।
  • विज्ञान भी इसके सटीक उपचार के लिए लगातार कोशिश कर रहा है.
  • लेकिन खान-पान का ध्यान रखें तो कैंसर से बचाव संभव है।
  • Pineapple भी उन खाद्य पदार्थों में शामिल है.
  • जो कैंसर से बचाव में कारगर माने जाते हैं।
  • इसका प्रमुख एंजाइम ब्रोमेलेन कैंसर कोशिकाओं के विकास में बाधा बन सकता है।
  • पेट के कैंसर के बारे में की गई एक रिसर्च के अनुसार,
  • ब्रोमेलेन फ्री रेडिकल्स से लड़ने वाले रिएक्टिव ऑक्सीजन कणों और ऑटोफैगी – मृत कोशिकाओं की प्राकृतिक सफाई को एक्टिव करके कैंसर के जोखिम को रोक सकता है।
  • एक अन्य अध्ययन के अनुसार, ब्रोमेलेन की एंटी-प्लेटलेट गतिविधि भी कैंसर के जोखिम में हस्तक्षेप कर सकती है।
  • इतना ही नहीं इसमें मौजूद एंटी-कैंसर गुण भी कैंसर कोशिकाओं को बढ़ने से रोक सकता है.
  • और कैंसर के जोखिम को कम कर सकता है।

Benefits of Pineapple in Inflammation and Sore Throat

  • जैसा कि लेख में बताया गया है कि Pineapple में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं।
  • इसलिए, इसका सेवन सूजन और उससे जुड़ी समस्याओं से निपटने में कारगर हो सकता है।
  • दरअसल, इसमें मौजूद एंजाइम ब्रोमेलेन में सूजन कम करने के गुण मौजूद होते हैं.
  • इसी गुण के कारण यह एक्यूट साइनसाइटिस, गले में खराश, गठिया और गाउट जैसी सूजन की समस्याओं से निजात पाने में सहायक हो सकता है।

Benefits of Pineapple in Increasing Immunity

  • Pineapple में कई प्राकृतिक रसायन हैं.
  • जैसे कि कौमेरिक एसिड, फेरुलिक एसिड , क्लोरोजेनिक एसिड और एलेजिक एसिड।
  • इसके साथ ही इसमें विटामिन सी, मैंगनीज, थियामिन, राइबोफ्लेविन, पाइरिडोक्सिन, कॉपर और फाइबर जैसे माइक्रोन्यूट्रिएंट्स भी हैं।
  • ऐसे में अनानास और उसके मुख्य घटक ब्रोमेलेन का सेवन करने से शरीर में उन कई जरूरी पोषक तत्वों की पूर्ति की जा सकती है.
  • जो प्रतिरोधक क्षमता में सुधार करने में सहायक हो सकते हैं।

Pineapple can Increase Digestive Power

  • अनानास के फायदे की बात की जाए, तो यह पाचन के लिए भी लाभकारी हो सकता है।
  • दरअसल, एक अध्ययन के अनुसार, पेड़-पौधों से मिलने वाले एंजाइम जैसे ब्रोमेलेन, पाचन को दुरुस्त रखने में सहायक हो सकता है।
  • ब्रोमेलिन ऐसा एंजाइम है, जो प्रोटीन को तोड़ने में सहायक हो सकता है.
  • जिससे पाचन क्रिया आसान हो सकती है।
  • इस आधार पर कहा जा सकता है कि Pineapple का सेवन पाचन क्रिया को सुचारू रूप से चलाने में सहायता कर सकता है।

Benefits in Bronchitis

  • Pineapple में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं.
  • जो कई तरह की सूजन की स्थितियों से निपटने में मदद कर सकते हैं।
  • ये ब्रोन्कियल ट्यूब में सूजन को कम करने में भी मदद कर सकते हैं.
  • जो आमतौर पर ब्रोंकाइटिस के कारण होती है।
  • साथ ही इसमें कुछ एंटी माइक्रोबियल गुण भी पाए जाते हैं.
  • जो ब्रोंकाइटिस के लक्षणों से राहत दे सकते हैं।

Benefits for Blood Pressure Control

  • रक्तचाप को सामान्य रखने में भी Pineapple खाने के फायदे हो सकते हैं।
  • इसमें मौजूद पोटैशियम की उच्च मात्रा और सोडियम की कम मात्रा रक्तचाप स्तर को सामान्य रखने में मदद कर सकती है।
  • हालांकि, अगर कोई व्यक्ति ब्लड प्रेशर की दवा का सेवन कर रहा है.
  • तो इसके सेवन से पहले एक बार डॉक्टरी परामर्श भी जरूर लें।

Antioxidant-Rich Pineapple

  • Pineapple में सीमित मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं.
  • जो शरीर में मुक्त कणों से लड़ने में मदद कर सकते हैं।
  • अनानास की यह गतिविधि स्वास्थ्य के लिहाज से महत्वपूर्ण है.
  • क्योंकि ये मुक्त कण यानी फ्री रेडिकल्स के कारण होने वाली स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से बचाव कर सकते हैं।
  • अपने एंटी एंटीऑक्सीडेंट गुणों के चलते ही यह किडनी और उसकी कार्यप्रणाली को सुरक्षा देने में भी कारगर हो सकता है।

Benefits for Skin

  • सेहत के लिए अनानास कितना फायदेमंद होता है, यह आप जान चुके हैं.
  • लेकिन त्वचा के लिए भी Pineapple खाने के फायदे हो सकते हैं।
  • एक अध्ययन के अनुसार, अनानास के मुख्य घटक ब्रोमेलेन पिटेराइसिस लाइकेनोइड्स क्रोनिका – त्वचा संबंधी समस्या नामक त्वचा रोग के उपचार में सहायक हो सकता है।
  • इसके एंटी-इंफ्लेमेटरी, प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले और एंटी-वायरल गुण त्वचा को सुरक्षा प्रदान करने में सहायक हो सकते हैं।
  • साथ ही में अनानास में सल्फर के कुछ यौगिक पाए जाते हैं.
  • जिनमें एंटी-ब्राउनिंग प्रभाव पाया जाता है।
  • इस प्रभाव के चलते अनानास त्वचा में निखार लाने में सहायक हो सकता है।

Benefits for Hair

  • जैसा कि अभी लेख में ऊपर बताया गया है कि Pineapple में सल्फर के कुछ यौगिक मौजूद होते हैं.
  • इसलिए यह त्वचा के साथ- साथ बालों के लिए भी फायदेमंद हो सकता है।
  • विशेषज्ञों का मानना है कि बालों की ऊपरी परत और नाखून केराटीन से बने होते हैं.
  • यह एक मजबूत प्रोटीन होता है.
  • जो लचीले सल्फर यौगिकों से बना होता है।
  • ऐसे में, माना जा सकता है कि सल्फर युक्त अनानास इस प्रोटीन का निर्माण करने में मददगार हो सकता है.
  • और बालों को सुंदर व मजबूत बना सकता है।

अनानास के पौष्टिक तत्व – Nutritional Value Of Pineapple 

नीचे हम बता रहे हैं कि 100 ग्राम अनानास में कौन-कौन से पौष्टिक तत्व होते हैं और उनकी मात्रा कितनी होती है।

Nutrients Quantity per 100 grams
Water 86 Gram
Energy 50 Kcal
Protein 0.54 Gram
Total Lipid 0.12 Gram
Carbohydrate 13.12 Gram
Fibre 1.4 Gram
Sugar 9.85 Gram
Calcium 13 Milligram
Iron 0.29 Milligram
Magnesium 12 Milligram
Phosphorus 8 Milligram
Potassium 109 Milligram
Sodium 1 Milligram
Zinc 0.12 Milligram
Copper 0.11 Milligram
Manganese 0.927 Milligram
Selenium  0.1 Milligram
Vitamin – C 47.8 Milligram
Thiamine 0.079 Milligram
Riboflavin  0.032 Milligram
Niacin 0.5 Milligram
Vitamin B6 0.112 Milligram
Folate (DFE) 18 Milligram
Vitamin A (IU) 58 IU
Vitamin K 0.7 Milligram
Fatty acid (saturated) 0.009 Gram
Fatty acid (monounsaturated) 0.013 Gram
Fatty acid (polyunsaturated) 0.04 Gram

खाने का तरीका – How to Eat Pineapple 

अनानास का सेवन करने के कई तरीके हो सकते हैं, जैसे :

  • Pineapple का रस निकालकर इसका जूस बनाया जा सकता है, जिसकी विधि लेख में आगे बताई गई है।
  • अनानास को छिलकर और छोटे टुकड़े में काटकर ऐसे भी खाया जा सकता है।
  • दही में अनानास के छोटे-छोटे टुकड़े डालकर इसका सेवन किया जा सकता है।
  • फलों के सलाद में अनानास का सेवन कर सकते हैं।
  • अनानास को जैम के रूप में भी खा सकते हैं।
  • कई लोग घर में अनानास की चटनी बनाकर भी इसका सेवन करते हैं।
इसे भी पढ़ें :

अनार व उसके जूस के फायदे – Benefits of pomegranate juice

When to Consume Pineapple

  • अगर किसी व्यक्ति का स्वास्थ्य सही है.
  • तो वह अनानास का सेवन कभी भी कर सकता है।
  • जैसा कि इस लेख में बताया गया है कि अनानास का सेवन करने से पाचन क्षमता में सुधार हो सकता है।
  • ऐसे में इसका सेवन खाना खाने के बाद किया जा सकता है।
  • इसके अलावा, सुबह नाश्ते के दौरान अनानास के जूस का सेवन किया जा सकता है.
  • वहीं Pineapple का सेवन हेल्दी स्नैक्स के रूप में कभी भी कर सकते हैं।

What is the Right Amount to Consume 

  • यूएसडीए (U. S. Department of Agriculture) के अनुसार,
  • फलों के सेवन की दैनिक मात्रा उम्र, लिंग और शारीरिक गतिविधि के स्तर पर निर्भर करती है।
  • प्रत्येक व्यक्ति दिन में 1 से 2 कप फलों का सेवन कर सकता है।
  • अगर अनानास की बात की जाए तो स्वस्थ व्यक्ति दिन भर में 1 कप कटे हुए अनानास का सेवन कर सकता है।

Method of Making Pineapple Juice

substance :

  • 2 कप कटा हुआ अनानास
  • 3 से 4 बर्फ के टुकड़े
  • 2 से 3 चम्मच चीनी
  • काला नमक (वैकल्पिक)
  • आधा चम्मच भुना जीरा पाउडर

Recipe :

  • Pineapple के टुकड़ों को जूसर में डालकर इनका रस निकाल लें।
  • इस रस को छलनी से छान कर एक बड़े बर्तन में निकाल लें।
  • अब इसमें चीनी, जीरा पाउडर और काला नमक डालकर अच्छी तरह से मिला लें।
  • एक गिलास में बर्फ के टुकड़े डालें और ऊपर से ये जूस गिलास में डालें।
  • तैयार है जायकेदार और खट्टा-मीठा अनानास का जूस।
How to make Pineapple Juice at home in mixture grinder/Anaanas juice recipe in hindi

Side Effects of This Fruit :

इसमें कोई दो राय नहीं है कि अनानास के अनेक फायदे हैं, लेकिन अधिक सेवन से इसके कुछ नुकसान भी देखे गए हैं।

  • Pineapple का सेवन करने से कई बार कुछ लोगों को एलर्जी हो जाती है और इससे खुजली, दस्त, उल्टी और पेट दर्द की समस्या हो सकती है।
  • इसके अलावा, अनानास खाने से कुछ लोगों के मुंह में खुजली, जीभ में सूजन, खांसी और डिस्फेगिआ (dysphagia-निगलने में परेशानी) जैसी समस्या भी हो सकती है।
  • अनानास में अबोर्टिफैसियंट (abortifacient) गर्भपात कराने वाला गुण होता है, इसलिए गर्भावस्था में इसका सेवन न करना बेहतर है।
  • चीकू,आम और पपीते की तरह ही अनानास का सेवन ब्लड शुगर के स्तर को बढ़ा सकता है। ऐसे में, डायबिटीज के मरीजों को इससे परहेज करना चाहिए या बहुत कम मात्रा में सेवन करना चाहिए।

Google Today के इस लेख में Pineapple से जुड़ी सभी जरूरी जानकारियां देने की कोशिश की गई है। उम्मीद है कि यह जानकारियां सभी के काम आएंगी और हमारे पाठक अनानास का सेवन सही प्रकार से करेंगे। इस लेख से यह तो स्पष्ट है कि Pineapple का संतुलित सेवन सेहतमंद है, लेकिन अगर कोई व्यक्ति किसी एलर्जी या स्वास्थ्य समस्या से जूझ रहा हो, तो इसे डॉक्टर की सलाह पर ही खाएं। ऐसी महत्वपूर्ण जानकारी वाले हमारे अन्य लेख पढ़ना न भूलें। Thank you….

Benefits of tulsi for empty stomach 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here