(Stomach Irritation) : Symptoms, Causes

478
(Stomach Irritation) : Symptoms, Causes and Home Remedies

ए      क वक्त था जब लोग नियमित समय पर भोजन कर लिया करते थे, लेकिन आजकल भागादौड़ी के इस दौर में लोगों के लिए खाने से ज्यादा काम जरूरी हो गया है। यह आदत कई बीमारियों का कारण बन सकती है। इनमें पेट की जलन भी एक आम समस्या है, जो धीरे-धीरे सीने तक फैलने लगती है। यह जलन कुछ और नहीं, बल्कि पेट में एसिड रिफ्लक्स है। इसके कारण पूरी जीवनशैली पर असर पड़ता है, लेकिन Stomach Irritation क्यों होती है और पेट में जलन होने पर क्या करें? इस लेख में हम इस समस्या से संबंधित ऐसी ही कुछ मुख्य बातें और पेट की जलन के लिए घरेलू उपाय आपको बताएंगे। ये घरेलू उपाय इस समस्या से कुछ हद तक आराम दिलाने में मददगार हो सकते हैं। वहीं, समस्या अगर गंभीर है, तो डॉक्टरी इलाज जरूर करवाएं।चलिए विस्तार से बात करते है.

Due to stomach irritation

  • जैसा कि हमने ऊपर बताया कि पेट में जलन एसिड रिफ्लक्स के कारण हो सकता है।
  • एसिड रिफ्लक्स यानी जब भोजन पेट के निचले हिस्से में पहुंचकर दोबारा ऊपर भोजन नली में आने लगता है।
  • इस समस्या को  Gastro Esophageal Reflux Disease – GERD के नाम से भी जाना जाता है।
  • आइए, नीचे जानते हैं कि इससे होने के पीछे कौन-कौन से कारण जिम्मेदार हो सकते हैं–
  1. मोटापा के कारण पेट पर अधिक दबाव पड़ना।
  2. गर्भावस्था
  3. हर्निया
  4. शराब का सेवन करने से।
  5. स्क्लेरोडर्मा (एक तरह का ऑटोइम्यून रोग)
  6. खाना खाने के तीन घंटों में ही लेट जाना।
  7. धूम्रपान।

कुछ खास दवाइयों के कारण भी पेट में जलन हो सकती है –

  1. अस्थमा के लिए की जाने वाली दवाइयां।
  2. उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने के लिए कैल्शियम चैनल ब्लॉकर।
  3.  एलर्जी के लिए उपयोग की जाने वाली दवाइयां।
  4. नींद की गोलियां।
  5. अवसाद की स्थिति में ली जाने वाली एंटीडिप्रेसेंट दवाइयां।
  6. पार्किन्सन – केंद्रीय तंत्रिका तंत्र से जुड़ा विकार, रोग के लिए उपयोग की जाने वाली डोपामाइन दवाइयां।
  7. असामान्य पीरियड्स या बर्थ कंट्रोल के लिए उपयोग की जाने वाली प्रोजेस्टिन दवाइयां।

Symptoms of Stomach Irritation

पेट की जलन के लक्षण के बारे में नीचे विस्तार से बताया गया है  –

  1. पेट, सीने और गले में जलन की शिकायत।
  2. जी मिचलाना या उल्टी होना।
  3. मुंह से दुर्गंध आना।
  4. गले में खराश होना।
  5. खांसी या घबराहट।
  6. हिचकी आना।
  7. कुछ निगलने में कठिनाई होना।

Home Remedies for Stomach Irritation

  • लेख के इस भाग में सीने, पेट एवं गले की जलन का घरेलू इलाज बताया गया है।
  • बता दें कि ये उपाय पेट की जलन का इलाज नहीं हैं.
  • ये केवल समस्या से कुछ हद तक आराम दिलाने में मददगार हो सकते हैं।
  • हम सलाह देंगे कि समस्या गंभीर होने पर डॉक्टरी इलाज जरूर करवाएं।

Apple vinegar

Apple vinegar

substance :

  •  दो से तीन चम्मच सेब का सिरका
  •  दो से तीन बूंद शहद (वैकल्पिक)
  •  एक चौथाई कप पानी

How to consume :

  •  पेट में जलन की दवा के लिए सभी सामग्रियों को मिलाकर खाने से आधे घंटे पहले पिएं।

How beneficial

  • पेट में जलन से राहत पाने के लिए सेब के सिरके का उपयोग किया जा सकता है।
  • माना जाता कि खाने से 30 मिनट पहले इस घोल का सेवन पेट में एसिड की मात्रा को बढ़ाकर,
  • खाने को जल्दी पचाने में मदद कर सकता है।
  • इससे पेट में जलन से कुछ हद तक राहत मिल सकती है।
  • फिलहाल, इस समस्या के लिए सेब के सिरके के उपयोग पर अभी और शोध की जरूरत है।

Lemon Juice

Lemon Juice

substance :

  •  एक चम्मच नींबू का ताजा रस
  •  एक गिलास गुनगुना पानी

How to consume :

  • पेट में जलन के घरेलू उपाय के लिए नींबू के रस को पानी में मिलाकर सेवन करें।
  • जब भी तकलीफ महसूस हो, इस उपाय को किया जा सकता है।

How beneficial?

  • पेट में अल्सर के कारण भी पेट में जलन की समस्या हो सकती है।
  • ऐसे में नींबू के रस का सेवन इस समस्या में कुछ हद तक मददगार साबित हो सकता है।
  • दरअसल, एक शोध में नींबू के एंटीअल्सर प्रभाव के बारे में पता चलता है.
  • जो अल्सर की स्थिति में कुछ हद तक सकारात्मक प्रभाव प्रदर्शित कर पेट में जलन के जोखिम को कम कर सकता है।
  • फिलहाल, इस विषय पर अभी और शोध किए जाने की आवश्यकता है।

Aloe vera juice

(Stomach Irritation) : Symptoms, Causes and Home Remedies

substance :

  •  आधा कप एलोवेरा जूस

How to consume :

  • खाना खाने से पहले आधा कप एलोवेरा जूस का सेवन करें।

How beneficial?

  • एलोवेरा जेल में Anthraquinones नामक यौगिक पाया जाता है.
  • जिसमें लैक्सटिव – प्राकृतिक रूप से पेट साफ करने का गुण असर होता है।
  • यह न केवल आपकी आंत में पानी की मात्रा को बढ़ा सकता है.
  • बल्कि जल स्राव को भी बढ़ा सकता और साथ ही मल त्याग की गतिविधि को आसान बना सकता है।
  • इससे बहुत हद तक पेट में जलन से राहत मिल सकती है। 

Milk

(Stomach Irritation) : Symptoms, Causes and Home Remedies

substance :

  • एक गिलास ठंडा दूध

How to consume :

  • पेट में जलन का इलाज करने के लिए दोपहर में खाने के बाद एक गिलास ठंडा दूध पी सकते हैं।

How beneficial?

  • ठंडे दूध का उपयोग पेट और सीने में जलन का घरेलू उपाय करने के लिए भी किया जा सकता है।
  • एक शोध में जिक्र मिलता है कि ठंडे दूध में एंटासिड – एसिडिटी को कम करने वाला गुण होते हैं.
  • जो हाइपरएसिडिटी – एसिडिटी का गंभीर रूप को कम कर पेट की जलन से राहत दिलाने में मददगार हो सकता है।

Curd

(Stomach Irritation) : Symptoms, Causes and Home Remedies

substance :

  • एक कप दही

How to consume :

  • पेट में जलन का उपाय करने के लिए दिन में दो बार एक कप दही का सेवन किया जा सकता है।

How beneficial?

  • पेट और सीने में जलन होने पर दही का सेवन करने से भी लाभ मिल सकता है।
  • एक शोध के अनुसार दही में एंटासिड गुण पाया जाता है.
  • जो पेट में जलन और एसिडिटी से आराम दिलाने में मदद कर सकता है।  

Baking soda

(Stomach Irritation) : Symptoms, Causes and Home Remedies

substance :

  •  एक चम्मच बेकिंग सोडा
  •  एक गिलास पानी

How to consume :

  • पेट में जलन और गैस का इलाज करने के लिए एक गिलास पानी में बेकिंग सोडा मिलाकर पी सकते हैं।
  • स्वाद के लिए शहद और नींबू भी मिला सकते हैं।

How beneficial?

  • सोडियम बाइकार्बोनेट का ही सामान्य नाम बेकिंग सोडा है।
  • इसका इस्तेमाल पेट की जलन से राहत पाने के लिए किया जा सकता है।
  • दरअसल, इसमें एंटासिड गुण होते हैं.
  • जो एसिडिटी को कम कर पेट की जलन से निजात दिलाने मे मदद कर सकते हैं।
 सावधानी : 
  •  इसका उपयोग एक सप्ताह से अधिक न करें,
  • क्योंकि यह सूजन और मतली जैसी समस्याओं का कारण बन सकता है।

Fruits for home remedies for stomach irritation

substance :

  • Apple
  • Apricot
  • banana
  • Kiwi
  • Pomegranate
  • Pear

How to consume :

  • इन फलों को आप नाश्ते में या शाम को स्नैक्स में खा सकते हैं।
  • इसके अलावा, फलों को मिलाकर फ्रूट सलाद के रूप में भी खा सकते हैं।

How beneficial?

  • गलत खान-पान के कारण पेट में जलन और दर्द हो सकता है।
  • इनसे बचने के लिए संतुलित आहार का सेवन करना जरूरी होता है.
  • और विशेषज्ञों द्वारा आहार में ताजे फलों – सेब, खुबानी, केला, कीवी, अनार और नाशपाती को शामिल करने की सलाह दी जाती है।
  • इन फलों में फाइबर की मात्रा पाई जाती है.
  • और फाइबर पेट को एसिडिटी से बचाने में सहायक हो सकता है।
  • एक शोध में पाया गया है कि फलों का सेवन एसिड रिफ्लक्स को कम करने में मदद कर सकता है.
  • जिससे पेट की जलन से राहत मिल सकती है।

Vegitables for Home Remedies for Stomach Irritation

Ginger

Ginger

substance :

  •  एक इंच अदरक के तीन टुकड़े
  •  दो कप पानी
  •  शहद (स्वादानुसार)

How to consume :

  •  अदरक को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें और उन्हें पानी में लगभग 30 मिनट तक उबालें।
  •  अब इसे छान लें और इसमें शहद मिलाकर इसका सेवन करें।

How beneficial?

  • अदरक का उपयोग पेट में जलन का घरेलू इलाज करने के लिए किया जा सकता है।
  • माना जाता है कि यह भोजन के पेट से आंत में जाने के समय को बढ़ाकर,
  • पाचन क्रिया को बेहतर कर सकता है।
  • इससे पेट से जुड़ी दिक्कतों जैसे अपच और गैस आदि से राहत पाने में मदद मिल सकती है।
  • अदरक के इतने गुणों को देखते हुए यह कहा जा सकता है कि यह पेट में जलन की समस्या में कुछ हद तक मददगार हो सकता है।
  • फिलहाल, इस विषय पर अभी और शोध की आवश्यकता है।

Mustard

( पेट में जलन ) : लक्षण, कारण और घरेलू उपाय

substance :

  •  आधा छोटा चम्मच सरसों
  •  एक गिलास पानी

How to consume :

  •  पेट की जलन से राहत पाने के लिए पानी के साथ सरसों को निगल जाएं।

How beneficial?

  • पेट की जलन के लिए घरेलू उपाय के रूप में सरसों का उपयोग किया जा सकता है।
  • सरसों एक एल्कलाइन खाद्य पदार्थ है.
  • जो मिनरल्स से भरपूर है।
  • यह लार के उत्सर्जन को बढ़ा सकता है।
  • हालांकि, कच्ची सरसों का सेवन करना थोड़ा मुश्किल हो सकता है.
  • लेकिन इसके एल्कलाइन गुण के कारण यह बढ़े हुए एसिड को बेअसर करने में मदद कर सकता है।
  • फिलहाल, इस विषय पर अभी और शोध की आवश्यकता है।

What To Eat in Stomach Irritation

पेट में जलन की समस्या में नीचे बताए गए खाद्य पदार्थों का सेवन किया जा सकता है –

  1. लो फैट या फैट रहित दूध और अन्य डेयरी उत्पाद।
  2. पकी हुई, डिब्बाबंद या फ्रोजन सब्जियां।
  3. फलों और सब्जियों का रस – सिट्रस फलों के अलावा
  4. सफेद आटे से बनी रोटियां और ब्रेड।
  5. चिकन, ग्रिल्ड व्हाइटफिश या शेलफिश।
  6. क्रीमी पीनट बटर।
  7. अंडा
  8. टोफू
  9. सूप

Abdominal Irritation Avoided

पेट में जलन की समस्या के दौरान इन खाद्य पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए –

  1. फैटी डेयरी खाद्य पदार्थ, जैसे व्हीप्ड क्रीम या हाई फैट वाली आइसक्रीम।
  2. चीज़
  3. कच्ची या अधपकी सब्जियां।
  4. सब्जियां जो गैस का कारण बन सकती हैं, जैसे ब्रोकली, गोभी, फूलगोभी आदि।
  5. ड्राई फ्रूट्स और नट्स।
  6. साबूत अनाज।
  7. मसालेदार खाद्य पदार्थ।
  8. अधिक मीठे खाद्य पदार्थ।
  9. तले हुए खाद्य पदार्थ।
  10. कैफीन।
  11. अल्कोहल।
 इसे भी पढ़ें : 

संतुलित आहार क्या है – What is a Balanced Diet

When Should a Doctor’s Advice be taken for Stomach Irritation?

पेट में जलन के साथ नीचे बताई गईं स्थितियों में डॉक्टरी सलाह लेना जरूरी हो जाता है –

  1. मलत्याग के दौरान रक्तस्त्राव।
  2. खांसी या सांस लेने में समस्या होना।
  3. थोड़ा खाने से ही पेट भर जाने जैसा एहसास।
  4. बार-बार उल्टी होना।
  5. गले में खराश।
  6. भूख न लगना।
  7. निगलने में मुश्किल या निगलते समय दर्द होना।
  8. वजन कम होना।

Stomach Irritation Prevention

पेट की जलन से बचने के लिए नीचे बताई गईं सामान्य बातों का पालन जरूर करें –

  1. धूम्रपान न करें।
  2. शराब का सेवन करें।
  3. एक बार में अधिक भोजन न खाएं।
  4. अधिक कैफीन का सेवन न करें।
  5. रोज व्यायाम करें और संतुलित आहार का सेवन करें।

उम्मीद करते हैं कि इस लेख के जरिए आप पेट की जलन के कारण और इसके घरेलू उपाय अच्छी तरह जान गए होंगे। वहीं, हमने लेख में बताया कि पेट की जलन के लक्षण कई तरह से दिख सकते हैं, जिनकी मदद से इस समस्या का पता लगाया जा सकता है। समस्या का पता लगने के बाद, पेट की जलन के लिए बताए गए घरेलू उपाय अपनाकर कुछ हद तक आराम पाया जा सकता है। वहीं, दिक्कत ज्यादा होने लगे, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करके जरूरी ट्रीटमेंट लें। हम आशा करते हैं कि यह लेख आपके लिए मददगार साबित होगा। Thankyou……

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here